You are currently viewing भारत में चावल का व्यापार कैसे करें ?
भारत में चावल का व्यापार कैसे करें ?

भारत में चावल का व्यापार कैसे करें ?

भारत में चावल का व्यापार कैसे करें?-जैसा की हम जानते है अधिक से ज्यादा लोग रोटी से ज्यादा चावल खाना पसंद करते है, चावल का बिज़नेस एक बहुत ही अच्छा बिज़नेस है।

चाहे लॉकडाउन लगे या बाजार में मंदी आ जाए लेकिन यह एक ऐसा बिज़नेस है जो कभी बंद नही होता है।

चावल का बिज़नेस एक ऐसा बिज़नेस है जो कि 12 महीने चलता है, और इसे आप किसी भी छोटे शरह या गांव के अंदर शुरू कर सकते है।

चावल दुनिया की तीसरी सबसे बडी फसल होती है, तो आप अंदाजा लगा सकते हो कि इस बिज़नेस को करने में कितना फायदा हो सकता है।

बहुत सारे लोग ऐसे है जो नहीं जानते कि चावल का व्यापार कैसे करें ? तो आज हम आपको बताएंगे कि आप भारत में चावल का व्यापार कैसे करें।

भारत में चावल का व्यापार कैसे करें ?

1. तय करे किस तरह का बिज़नेस शुरू करना चाहते हो

चावल का बिज़नेस चार तरह से किया जा सकता है आप यह तय करे कि आप किस तरह इस बिज़नेस को शुरू करना चाहते हो।

  • रिटेल (Retail)

रिटेल बिज़नेस के अंदर आपको एक दुकान लेनी होगी और चावल की अलग अलग वराइटी रखनी होगी।

  • होलसेल (Wholesale)

आप चावल को सस्ते दाम में खरीद कर रिटेलर और दूसरे होलेसलेर को बेच सकते हो।

  • एक्सपोर्ट (Export)

भारत के अंदर 30 प्रतिशत चावल बाहर के देशों में भेजे जाते है, आप एक्सपोर्ट का बिज़नेस भी शुरू कर सकते हो।

  • खुद का ब्रांड बनाए (Make Own Brand)

आप चावल का एक खुद का ब्रांड भी बना सकते हो।

लेकिन आज हम इस ब्लॉग में केवल होलसेल बिज़नेस के बारे में बताएंगे कि कैसे आप चावल का होलसेल बिज़नेस शुरू कर सकते हो।

2. जगह (Location)

इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए आपको कम से कम 40 से 50 गज जगह की आवश्यकता होगी जहा पर आप समान को रख सकेंगे।

ध्यान रखे हमेशा जगह ऐसी ले जहा पर आस पास मार्किट हो ताकि ग्राहक को आपकी दुकान के बारे मे आसानी से पता लगा सके।

3. बिज़नेस लाइसेंस (Business License)

इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए आपको कुछ दस्तावेज की आवश्यकता पड़ेगी।

  • फससएई (FSSAI)

आपको इस बिज़नेस को शुर करने के लिए FSSAI लाईसेंस लेने की जरूरत पड़ेगी, यह लाइसेंस आपको किसी भी खाने पीने की चीज़ों का बिज़नेस शुरू करने के लिए लेना होता है।

  • जीएसटी (GST)

इस बिज़नेस के अंदर आपको जीएसटी नंबर की भी आवश्यकता पड़ेगी।

4. बिज़नेस प्लान बनाए (Business Plan)

किसी भी बिज़नेस के अंदर एक बिज़नेस प्लान का बहुत बड़ा रोल होता है, इसीलिए एक बिज़नेस प्लान बनाए। बिज़नेस प्लान के अंदर शहर के अंदर जितने भी रिटेलर और होलेसलेर है उनके बारे में लिखे ताकि बाद में आप उन्हें आसानी से टारगेट कर सके।

5. इन्वेस्टमेंट (Investment)

अब बात आती है कि इस बिज़नेस के अंदर कितना पैसा लगाना होगा, तो इस बिज़नेस में पैसा लगाने की कोई भी सीमा नही है इस बिज़नेस के अंदर आप कितना भी पैसा लगा सकते हो क्यों कि भारत के अंदर चावल की एक हज़ार से भी ज्यादा वराइटी उपलब्ध है।

शुरुआत के अंदर आप कुछ अच्छी वराइटी के साथ इस बिज़नेस की शुरआत कर सकते है, अगर आप इस बिज़नेस को छोटे से छोटे स्तर पर भी शुरू करना चाहते हो तो आपको कम से कम 4 से 5 लाख तक कि इन्वेस्टमेंट करनी होगी।

6. चावल खरीदे (Buy Rice)

चावल दो कैटेगरी के होते है एक बासमती और दूसरा अबासमती, तो आप एक कैटेगरी पकड़ कर उस पर काम कर सकते है।

अब बात आती है कि चावल कहा से खरीदे, तो चावल हमेशा वही से खरीदे जहा पर चावल की सबसे ज्यादा खेती होती है।

अगर हम बात करे बासमती चावल की तो बासमती चावल की सबसे ज्यादा खेती, उत्तरांचल ज़ उत्तर प्रदेश, हरियाणा , पंजाब में होती है। और अगर हम बात करे अबासमती चावल की खेती की तो आसाम, बिहार, और ओडिशा में अबासमती चावल की सबसे ज्यादा खेती होती है।

तो आप जहा पर चावल की खेती की जाती है वहा से चावल खरीद सकते है।

याद रखे हमेशा चावल तभी खरीदे जब चावल की फसल आती है ताकि आपको चावल एक अच्छे दाम में मिल सके।

7. मार्केटिंग और सेल्स (Marketing And Sales)

अब बात आती है कि मार्केटिंग कैसे करे और माल को कैसे बेचे, तो होलसेल बिज़नेस के अंदर मार्केटिंग करने का एक ही रास्ता है कि आप रिटेलर और होलेसलेर के पास जाए और उन्हें एक अच्छा दाम दे ताकि वे आपका माल खरीद सके और उन्हें आपके बिज़नेस के बारे मे पता लग सके।

चावल बिज़नेस में प्रॉफिट कितना है?

अगर इस बिज़नेस के अंदर आपको प्रॉफिट कमाना है तो आपको कम रेट में चावल खरीदना होगा ताकि आप अपना प्रॉफिट अच्छा निकाल पाए। अगर आप सीधा किसान से चावल खरीदते है तो आपको अच्छा खासा प्रॉफिट हो सकता है।

अगर हम बात करे प्रॉफिट मार्जिन की तो इस बिज़नेस के अंदर आप 10 से 40 प्रतिशत तक प्रॉफिट कमा सकते हो।

FAQs

चावल कितने प्रकार के होते है?

भारत के अंदर चावल की एक हज़ार से भी ज्यादा वराइटी होती है।

चावल का बिज़नेस कितने तरीको से किया जा सकता है?

चावल का बिज़नेस रिटेल, होलसेल, एक्सपोर्ट, इम्पोर्ट, पैकिंग, इत्यादि तरीको से किया जा सकता है।

चावल की खेती सबसे ज्यादा किस राज्य में होती है?

उत्तरांचल, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, आसाम, बिहार, ओडिशा।

अन्य पढ़े

इन 8 स्टेप में शुरू करे होलसेल बिज़नेस

जानिए बेकरी बिज़नेस कैसे शुरू करे

जानिए रेस्टोरेंट बिजनेस कैसे शुरू करें

Leave a Reply