You are currently viewing मार्केटिंग करने के 40 तरिके | Marketing Tips In Hindi Language
मार्केटिंग करने के 40 तरिके | Marketing Tips In Hindi Language

मार्केटिंग करने के 40 तरिके | Marketing Tips In Hindi Language

किसी भी बिज़नेस के लिए मार्केटिंग बहुत मायने रखती है, अगर किसी बिज़नेस की मार्केटिंग रणनीति सही नही है तो वो बिज़नेस सफल नही हो सकता।

लोगो तक अपने बिज़नेस को पोहचाने के लिए मार्केटिंग ही एक जरिया होता है, कोई भी बिज़नेस बिना मार्केटिंग के नही चल सकता। हर बिज़नेस को मार्केटिंग की जरूरत होती है, लेकीन बहुत सारे बिज़नेस नही जानते की मार्केटिंग कैसे करें

आज हम आपको मार्केटिंग करने के 40 तरिके | Marketing Tips In Hindi Language | मार्केटिंग कैसे करे बताएंगे।

किसी भी बिज़नेस की मार्केटिंग करने से पहले आपको इन चीज़ों को जानना ज़रूरी है।
  • बिज़नेस करंट सिचुएशन (Business current situation)

सबसे पहले जाने की बिज़नेस की करंट सिचुएशन क्या है।

  • टारगेट मार्केट (Target Market)

अपनी टारगेट मार्केट को जाने, देखे की आपका बिज़नेस किस मार्केट को टारगेट करता है।

  • मार्केटिंग गोल्स (Marketing goals)

अपने बिज़नेस के लिए मार्केटिंग गोल्स बनाए, समझे की आप मार्केटिंग से क्या हासिल करना चाहते है या कहा तक पोहचना चाहते है।

  • मार्केटिंग कॉस्ट (Marketing cost)

मार्केटिंग करने से पहले अपनी कॉस्ट डिफाइन करे, देखे की आप कम से कम और ज्यादा से ज्यादा कितना पैसा खर्च कर सकते है।

  • मार्केटिंग प्लान (Marketing plan)

मार्केटिंग करने से पहले एक प्लान तैयार करे, जिससे कि आपके पास पहले से ही एक रास्ता को की आपको कैसे क्या करना है।

  • मार्केटिंग मेथड्स (Marketing methods)

मार्केटिंग के मेथड्स को जाने, देखे की आप किन किन मेथड्स से मार्केटिंग कर सकते है।

मार्केटिंग करने के 40 तरिके | Marketing Tips In Hindi Language

Table of Contents

1. कंटेंट मार्केटिंग (Content Marketing)

मार्केटिंग की दुनिया मे कंटेंट को राजा माना जाता है, कंटेंट मार्केटिंग एक बहुत ही अच्छा फ्री माध्यम है अपने बिज़नेस को प्रमोट करने का। आप कंटेंट मार्केटिंग के जरिये अपने ग्राहक की जरूरत तक पोहच सकते हैं।

आइये जानते है कि किन किन तरीको से आप कंटेंट मार्केटिंग कर सकते है।

  • आप अपना ब्लॉग शुरू कर सकते है और वहां पर कंटेंट लिख सकते है।
  • आप सोशल मीडिया पर फ़ोटो शेयर कर सकते है।
  • आप सोशल मीडिया और वीडियो की फॉर्म में भी कंटेंट शेयर कर सकते है।
  • आप अपना खुद का एक फॉर्म शुरू कर सकते है जहाँ पर आपका ग्राहक आपसे सवाल जवाब कर सकता है।

2. इनबाउंड मार्केटिंग (Inbound Marketing)

इनबाउंड मार्केटिंग एक बहुत अच्छा तरीका है अपने बिज़नेस को लोगो तक पोहचाने का। इनबाउंड मार्केटिंग के अंदर आपको कुछ वैल्यू और आकर्षित कंटेट उत्पन करना होता है जिसके की आपका ग्राहक आपको आसानी से ढूंढ सके।

3. सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (Search Engine Optimization)

इंटरनेट की दुनिया मे SEO का बहुत बड़ा रोल है, किसी भी सर्च इंजन पर वेबसाइट को रैंक कराने मे SEO की अहम भूमिका होती है। ये एक बहुत ही अच्छा तरीका हो सकता है अपने बिज़नेस को फ्री में प्रमोट करने के लिए।

आप सर्च इंजन पर SEO की मदद से अपनी वेबसाइट की रैंकिंग बड़ा सकते है और अपने बिज़नेस को आसानी से प्रोमोट कर सकते है।

4. एरनेड मीडिया (Earned Media And PR)

एरनेड मीडिया की ऑर्गेनिक तरीका है अपने बिज़नेस को प्रमोट करने के लिए।

आइये जानते है एरनेड मीडिया क्या होता है।

कोई भी ऐसा प्रचार या मीडिया जो आपकी कंपनी या आपकी कंपनी के किसी कर्मचारी द्वारा ना किया गया हो, बल्कि ग्राहक, सोशल मीडिया, ब्लॉगर, और पब्लिक के द्वारा किया गया ही इसे ही एरेड मीडिया कहते है।

आप लोगो के बीच अपनी कंपनी की जागरूकता फैला सकते है, और एरनेड मीडिया के तहत अपने बिज़नेस को प्रमोट कर सकते है।

5. इंडस्ट्री इवेंट्स (Industry Events)

जैसा कि हम जानते है, बहुत सारे इंडस्ट्री इवेंट्स होते रहते है। आप उन इंडस्ट्री इवेंट्स में अपने बिज़नेस की मार्केटिंग कर सकते है, आप या तो कोई पोस्टर लगवा सकते है अपने बिज़नेस के बारे या फिर कोई एक्टिविटी करवा सकते हो।

6. सोशल मीडिया मार्केटिंग (Social Media Marketing)

सोशल मीडिया का एक बहुत बड़ा रोल है आज के समय में बिज़नेस के लिए, आज बहुत सारे बिज़नेस सिर्फ सोशल मीडिया के तहत ही अपने बिज़नेस को बड़ा रहे है। सोशल मीडिया पर आप आसानी से अपने बिज़नेस की मार्केटिंग कर सकते है।

7. कॉन्वेर्सशनल मार्केटिंग (Conversational Marketing)

कॉन्वेर्सशनल मार्केटिंग आज के समय मे इंटरनेट की दुनिया मे बहुत फायदा मंद है, कॉन्वेर्सशनल मार्केटिंग के अंदर आपको अपना लैंडिंग पेज या कोई वेबसाइट बनानी होती है जिसके अंदर आपका ग्राहक आता है और आप उसे कुछ वैल्यू प्रदान कर के उस ग्राहक को कुछ बेच सकते है इसे ही कॉन्वेर्सशनल मार्केटिंग कहते है।

8. वायरल मार्केटिंग (Viral Marketing)

वायरल मार्केटिंग एक सेल्स की तकनीक है, जिसके अंदर आप लोगी के तहत अपने बिज़नेस को बड़ा सकते है। आप सोशल मीडिया और अपने बिज़नेस से संबंधित मेमे बना सकते है जिससे कि आपको बहुत फायदा मिलेगा।

9. पेड मार्केटिंग (Paid Media)

पेड मार्केटिंग एक बहुत अच्छा तरीका हो सकता है अपने बिज़नेस को कम समय मे प्रमोट करने का। बहुत सारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म है जहाँ पर आप एड्स (Ads) चला सकते है और अपने बिज़नेस को जल्दी बड़ा सकते है।

आइये जानतें है पेड मार्केटिंग कितने प्रकार की होती है।

  • सर्च एड्स (Search Ads)
  • डिस्प्ले एड्स (Display Ads)
  • सोशल एड्स (Social Ads)
  • रेमार्केटिंग एड्स (Remarketing Ads)
  • गूगल शॉपिंग एड्स (Google Shopping Ads)
  • लोकल सर्विस एड्स (Local Service Ads)
  • जीमेल स्पॉन्सर्ड एड्स (Gmail Sponsored Ads)
  • इंस्ट्रीम एड्स (Instream Ads)

10. इंटरनेट मार्केटिंग (Internet Marketing)

ऑनलाइन मार्केटिंग को ही इंटरनेट मार्केटिंग कहते है, बहुत सारे तरीके सहै जिनसे आप इंटरनेट मार्केटिंग कर सकते है। जैसे गूगल एडवर्ड्स, ईमेल, सोशल मीडिया,ओर बहुत सारे।

11. ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing)

ईमेल मार्केटिंग आज के समय में बिज़नेस के लिए की बहुत अच्छा माध्यम बन चुका है आने ग्राहक से जुड़े रहने के लिए। आज बिज़नेस ईमेल के तहत अपने ग्राहक तक सबसे पहले जानकारी पोहचा सकते है।

12. सर्च इंजन मार्केटिंग (Search Engine Marketing)

दुनिया के अंदर बहुत सारे सर्च इंजन उपलब्ध है, जैसे कि गूगल, बिंग, याहू, सफारी, और भी बहुत सारे। आप इन सर्च इंजन पर एड्स चला कर अपने बिज़नेस की मार्केटिंग कर सकते है।

13. पॉइंट ऑफ परचेस मार्केटिंग (Point Of Purchase Marketing)

अगर आपका कोई सस्टोर है या कोई दुकान है या कुछ और तो यह बिज़नेस स्ट्रेटेजी आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकती है। पॉइंट ऑफ परचेस मार्केटिंग के अंदर आपको अपने प्रोडक्ट्स की प्लेसमेंट ऐसे करनी होती है जिससे कि ग्राहक का ज्यादा से ज्यादा ध्यान जाए और वो उन प्रोडक्ट को खरीदने के लिए आकर्षित हो जाये, इसे ही पॉइंट ऑफ परचेस मार्केटिंग कहा जाता हैं।

14. को-ब्रान्डिंग (Co- Branding)

कोब्रान्डिंग के अंदर आप अपने ग्राहक को अपने बिज़नेस के बारे में जागरूक करते हो। आप अपने बिज़नेस से रिलेटेड किसी भी बिज़नेस से पार्टनरशिप कर सकते है जिससे की आपके बिज़नेस की वैल्यू बढ़ेगी और आपका लोग आपके बिज़नेस के प्रति जागरूक भी होंगे।

15. स्टोरी टेलिंग (Story Telling)

हर किसी बिज़नेस की एक स्टोरी होती है, जैसे कि वह कैसे शुरू हुआ, शुरू करने वाला कौन है, आप इस बिज़नेस के लोगो को कैसे फायदा पोहचाओगे ये सभी। आप अपने बिज़नेस की स्टोरी बता सकते है जिससे कि आपका गग्राहक आपके बिज़नेस के बारे में अच्छा महसूस करे।

16. इन्फ्लुएंस मार्केटिंग (Influence Marketing)

हम रोज टेलीविजन पर देखते है की कोई ना कोई सेलेब्रिटीज़ किसी ना किसी प्रोडक्ट को प्रमोट करता रहता है, इसे ही इंफ्लुएंसर मार्केटिंग कहते है। इन्फ्लुएंस मार्केटिंग एक बहुत अच्छा तरीका है अपने बिज़नेस को प्रमोट करने के लिए। जैसे कि हम जानते हैं बहुत सारेलोग है जिनकी सोशल मीडिया पर अच्छी फॉलविंग होती है, आप उन्हें पैसे देख कर अपने बिज़नेस को प्रमोट कर सकते है।

17. ब्लॉग स्ट्रैटजिकालय (Blog Strategically)

आप ब्लॉग के तहत अपने बिज़नेस को आसानी से प्रोमोट कर सकते हैं, बहुत सारे बिज़नेस पहले से ही इस मेथड को इस्तेमाल कर के अपने बिज़नेस की अच्छी खासी मार्केटिंग कर चुके है। आप अपना एक ब्लॉग बना कर अपने ग्राहकों को अपने बिज़नेस के बारे में जागरूक कर सकते हो।

18. सर्वे मार्केटिंग (Survey Marketing)

आप जिस भी फिल्ड में बिज़नेस कर रहे हो, आप सर्वे कर के अपने ग्राहक की जरूरत का पता लगा सकते है। सर्वे मार्केटिंग एक बहुत ही अच्छा तरीका है अपने बिज़नेस को उसकी मार्केटिंग को समझने का।

19. फ्री टी-शर्ट मार्केटिंग (Free T-shirt Marketing)

फ्री की चीज़ तो हर कोई पसंद करता है, आप फ्री में कुछ टीशर्ट बाट सकते है अपने बिज़नेस का नाम लिख कर जिससे कि लोग आपके के बिज़नेस के बारे में जाने और आसानी से आपके बिज़नेस तक पोहच सके।

20. आउटबाउंड मार्केटिंग (Outbound Marketing)

आउटबाउंड मार्केटिंग के अंदर आपको खुद आपके कस्टमर तक पोहचाना होता है, आउटबाउंड मार्केटिंग एक ट्रेडिशनल तरीका है मार्केटिंग के अंदर।

आउटबाउंड मार्केटिंग के अंदर आप अपने ग्राहक को कॉल कर सकते है, न्यूज़पेपर me इस्तेहार छपवा सकते है, या रेडियो या फिर पोस्टर के तहत अपने बिज़नेस की मार्केटिंग कर सकते हो।

21. डायरेक्ट मार्केटिंग (Direct Marketing)

डायरेक्ट मार्केटिंग के अंदर आप अपने ग्राहक को डायरेक्ट टारगेट कर सकते है, जैसे मेसेज के तहत, कॉल के तहत, ईमेल के तहत, वेबसाइट के तहत। इन सभी तरीको से आप डायरेक्ट मार्केटिंग कर सकते है।

22. वीडियो मार्केटिंग (Video Marketing)

वीडियो मार्केटिंग आज के समय मे बहुत ही लाभदायक है, आप अपने बिज़नेस से रिलेटेड कुछ वीडियो बना कर उन्हें सोशल मीडिया और यूट्यूब पर प्रोमोट कर सकते है।

23. सोशल मीडिया (Social Media Advertising)

आप सोशल मीडिया पर अपने ग्राहक को टारगेट कर सकते हो, आप कंटेंट बना कर सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हो।

24. टीच ोथेर्स (Teach Others)

आप अपना एक फ्री कोर्स या यूट्यूब चैनल बना कर लोगो को कुछ सीखा सकते है, इस मेथड से आपको बहुत फायदा मिलेगा।

25. रेफरल मार्केटिंग (Referral Marketing)

रेफरल मार्केटिंग आज के समय मे एक बहुत अच्छा मार्केटिंग मेथड बन चुका है, बहुत सारी कंपनी इस मेथड को इस्तेमाल कर रही हैं। रेफरल मार्केटिंग के अंदर आप कुछ कमीशन दे कर अपने प्रोडक्ट ओर सर्विस को प्रमोट कर सकते है।

26. फ्री कंसल्टेशन (Free Consultation)

आप जो भी बिज़नेस कर रहे है, आप उस बिज़नेस के बारे में लोगों को फ्री में गाइड कर सकते है।, आप लोगी को बता सकते है कि कैसे करे अपने बिज़नेस के बारे मे।

27. बोनस स्ट्रेटेजी (Bonus Strategy)

हर कोई व्यक्ति कुछ ना कुछ छुट जरूर चाहता है किसी भी प्रोडक्ट ओर सर्विस में। आप अपने ग्राहक को अपने प्रोडक्ट ओर सर्विस में कुछ छुट दे कर अपने बिज़नेस को प्रमोट कर सकते है।

28. लोकल SEO (Local SEO)

इंटरनेट के जमाने मे SEO का बहुत बड़ा रोल है, अपने बिज़नेस का लोकल SEO अच्छे से करे ताकि आप इंटेरनेट पर अपनी एक अच्छा पोजीशन बना सके।

29. ओमनी चैनल मार्केटिंग (Omnichannel Marketing)

कोई भी ईकॉमर्स स्टोर जो बहुत सारे रिटेलर को अपने साथ जोड़ता है उसे जी ओमनी चैनल मार्केटिंग कहते है। आज बहुत सारी वेबसाइट ओर प्लेटफार्म उपलब्ध है जहाँ पर आप अपने बिज़नेस को लिस्ट कर सकते है।

30. गूगल मय बिज़नेस (Google’s Local Offering)

गूगल अधिक से ज्यादा चीज़े फ्री में उपलब्ध कराता है जिनमे से एक है गूगल मय बिज़नेस (Google My Business)। आप गूगल मय बिज़नेस पर अपने बिज़नेस को रजिस्टर कर सकते है, जब भी गूगल पर कोई यूजर आपके बिज़नेस से सम्बंधित कुछ सर्च करेगा तो वहा पर गूगल मय बिज़नेस के तहत आपका बिज़नेस भी शो हो जाएगा।

31. कॉम्पिटिटर गेओफेन्सिंग (Competitor Geofencing)

आप अपने आस पास अपने कंपेटिट्र्स को देख सकते है, ओर जो भी ग्राहक उनके पास जा रहे हैं आप उन्हें टारगेट कर सकते हैं, आप उन्हें कुछ आफर दे कर अपने बिज़नेस की तरफ आकर्षित कर सकते है।

32. रेपुटेशन मैनेजमेंट (Reputation Management)

किसी भी बिज़नेस के लिए उसकी रेपुटेशन बहुत मायने रखती है, आज के समय मे आप अपनी रेपुटेशन ऑनलाइन मीडिया के तहत आसानी से बड़ा सकते है और अपने बिज़नेस को प्रोमोट कर सकते है।

33. बिल्डिंग ट्रस्ट इन कस्टमर (Building Trust In Customer)

किसी भी बिज़नेस के अंदर अपने ग्राहक पर विशवास बनना बहुत जरूरी होता है, अपने ग्राहक पर अपना विशवास बढ़ाये। अपने प्रोडक्ट ओर सर्विस को इतना बेहतर बनाये की आपके ग्राहक को कोई परेशानी ना।

34. एडवोकेसी मार्केटिंग (Advocacy Marketing)

एडवोकेसी मार्केटिंग के अंदर आप अपने ग्राहक से अपने प्रोडक्ट्स ओर सर्विस के एक्सपीरियंस के बारे मे बात करते है, जिससे कि आपके पता लग जाता है कि आपका ग्राहक आपके प्रोडक्ट्स से खुश हैं या नही।

35. मोबाइल मार्केटिंग (Mobile Marketing)

आज के समय मे आधी से ज्यादा 90 प्रतिशत जनता मोबाइल का इस्तेमाल करती है, आज लोग कोई सबसे ज्यादा समय अपने मोबाइल में ही व्यतीत करते है। आप SMS, MMS, Social Media, Apps के तहत अपने ग्राहक के मोबाइल तक पोहच सकते है।

36. कांटेस्ट मार्केटिंग (Host Contest)

होस्ट कांटेस्ट मार्केटिंग एक बहुत ही अच्छा तरीका है अपने बिज़नेस को बढ़ाने का, होस्ट कांटेस्ट के तहत आप कोई एक्टिविटी करवा सकते है और कोई जितने वाले के लिए कोई कुछ ईनाम रख सकते है।

37. न्यूस्लेटर (Interactive Newsletters)

न्यूस्लेटर एक बहुत ही अच्छा तरीका है मार्केटिंग करने का, अक्सर आपने देखा होगा जब भी आप किसी वेबसाइट पर जाते है, तो आप वहा पर बोला जाता है कि हमारे न्यूस्लेटर को जॉइन करे। आप भी लोगो से अपनी वेबसाइट पर न्यूस्लेटर जॉइन करा सकते है, ओर उन्हें नए नए ऑफर्स के बारे में बता सकते है।

38. पर्सनल ब्रांडिंग (Personal Branding)

बिज़नेस के अंदर पर्सनल ब्रांडिंग बहुत मायने रखती है, अपनी पर्सनल ब्रांडिंग बनाये। बहुत सारे लोग अपनी पर्सनल ब्रांडिंग से ही अपना बिज़नेस कर रहे है।

39. चटबॉट (Chatbots)

जैसे कि हम ने अक्सर देखा है, जब भी हम किसी वेबसाइट पर जाते है तो वहा पर बात करने के लिए एक फीचर उपलब्ध होता है जहाँ पर आप साथ के साथ बात कर सकते है, उसे ही चटबॉट बोलते हैं।

40. लैंडिंग पेज (Landing Page)

लैंडिंग पेज एक ऐसा पेज होता है जहाँ पर हम एक पर्टिकुलर ग्रुप्स या ग्रहको को टारगेट करते हैं। लैंडिंग पेज के अंदर आप किसी पर्टिकुलर प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में जानकारी प्रदान कर सकते है।

Frequently Asked Questions

मार्केटिंग क्या होती है?

मार्केटिंग एक प्रक्रिया होती है जिसके तहत आप अपने बिज़नेस प्रोडक्ट्स और सर्विस को प्रमोट कर सकते है। मार्केटिंग के तहत आप अपने प्रोडक्ट्स और सर्विस अपने ग्राहक तक पोहचा सकते है।

मार्केटिंग कैसे करे?

मार्केटिंग करने के बहुत सारे तरिके होते है, हर बिज़नेस के अलग मार्केटिंग रणनीति होती है। सबसे आसान मार्केटिंग करने का तरीका है सबसे पहले अपने बिज़नेस को समझो और अपने ग्राहक को वैल्यू प्रदान करो।

मार्केटिंग के प्रकार?

मार्केटिंग के कई प्रकार होते है, जैसे ऑनलाइन मार्केटिंग, डायरेक्ट मार्केटिंग, टेलीविज़न मार्केटिंग, रेडियो मार्केटिंग, बिलबोर्ड मार्केटिंग, डोर टू डोर मार्केटिंग, प्रिंट मार्केटिंग, मीडिया मार्केटिंग, इत्यादि।

Read More-Best 40 Small Business Ideas In Hindi | स्मॉल बिज़नेस आइडिया

Read More-Online business kaise kare | ऑनलाइन बिजनेस कैसे शुरू करें

Leave a Reply