You are currently viewing 25 स्टार्टअप बिज़नेस आइडिया | Startup Ideas In Hindi
25 स्टार्टअप बिज़नेस आइडिया | Startup Ideas In Hindi

25 स्टार्टअप बिज़नेस आइडिया | Startup Ideas In Hindi

जैसा की हम जानते है भारत के अंदर पिछले कुछ सालो में स्टार्टअप की संख्या कितनी बढ़ी है, आज भारत के अंदर हज़ारो की संख्या में हर साल स्टार्टअप ओपन होते है।

स्टार्टअप के जरिये भारत के अंदर लाखो रोजगार भी उत्पन हो रहे है, आज हर युवा अपना स्टार्टअप खोलने की सोच रहा है लेकिन उन्हें कोई आईडिया ही नहीं मिल पता है।

आज इस आर्टिकल के अंदर हम आपको 25 ऐसे स्टार्टअप बिज़नेस आइडियाज (Startup Ideas In Hindi) बताएंगे जिन्हे आप आसानी से शुरू कर सकते है, और जिनकी आने वाले समय में बहुत डिमांड होगी।

25 स्टार्टअप बिज़नेस आइडिया | Startup Ideas In Hindi

Table of Contents

1. ऑनलाइन ग्रोसरी बिज़नेस (Online Grocery Business)

y3my7IGlcmKJDXZb2b6nWssquo6KWXdA7C0 eWRi9ZlIiTo4c60rp3l78lvuW8FqmWrrjZXF23eKguJKTagHASzucJTc04n3UhIib2GqPVlJm1nJSMvabQyUjqNwcRgk73a52v6A

भारत में वर्तमान समय में इंटरनेट का एक्सेस काफी लोगो के पास आ गया हैं तो ऐसे में इस बात में कोई दो राय नहीं हैं की इस नए डिजिटल इंडिया में ऑनलाइन स्टार्टअप्स सबसे अधिक फायदेमंद साबित हो रहे हैं। वर्तमान समय में अच्छा मुनाफा देने वाले कुछ बेहतरीन स्टार्टअप्स के बारे में बात की जाये तो उनमे से एक Online Grocery Startups भी हैं जो आज के समय मे काफी तेजी से भारत में फैल रहै है। 

लोग वर्तमान समय में ऐसे बिजनेस की तलाश में हैं जो लम्बे समय तक पैसा दे सके और फ्यूचरिस्टिक भी हो तो ऐसे में ऑनलाइन ग्रोसरी स्टार्टअप्स शुरू करना वाकई में प्रॉफिटेबल साबित होगा क्युकी ग्रोसरीज खरीदना लोगो की जरूरत हैं लेकिन अब इसके लिए कोई घर के बाहर भी नहीं जाना चाहता। सुपरमार्ट्स का क्रेज भी पहले से कम हो चूका हैं तो ऐसे में ऑनलाइन ग्रोसरी स्टार्टअप्स के लिए कई मौके मौजूद हैं।

भारत में अभी ऑनलाइन ग्रोसरी स्टार्टअप के क्षेत्र में अधिक कॉम्पटीशन नहीं हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं की आने वाले समय में भी कॉम्पटीशन नहीं होगा। Swiggy जैसे बड़े प्लेटफॉर्म्स भी इस क्षेत्र में काम कर रहे हैं। जरुरी नहीं की इसे बड़े स्तर पर ही शुरू किया जाये, अच्छे मार्जिन के चलते अगर आप एक बड़े एरिया को या फिर एक शहर को भी कवर कर लेते हो तब भी अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता हैं।

अब अगर थोड़ा आकड़ो पर नजर डाली जाए तो वर्तमान समय मे ग्रोसरी इंडस्ट्री की मार्केट साइज करीब 268.22 बिलियन डॉलर्स की हैं जो करीब 8.02 की एनुअल रेट से आगे बढ़ रही हैं। साल 2021 में इंडस्ट्री की ग्रोथ करीब 7.55℅ बताई जा रही हैं। कुछ आंकड़े यह भी कहते हैं कि भारत का फ़ूड एंड ग्रोसरी मार्केट साल 2024 तक करीब 790 बिलियन डॉलर तक ग्रोथ कर सकता हैं। ऐसे में इस क्षेत्र में बिजनेस शुरू करना फायदेमंद साबित होगा।

2. ऑनलाइन फैशन बिज़नेस (Online Fashion Business)

ed28vowSre KNfiXtoRfSLypjZQRJfGtO7KdY6rF8J7tz3vCWFBzILFMiq3DgL6b9kUxwNPQhyoXSMJhjVf8A5nfRXPwdg4whR7qJarPZ0Gz5sicf2BzIHMpDrRLGXOC WekJU5g

पिछले कुछ सालो में अगर अचानक से उभरकर सामने आने के बाद करोड़ो-अरबो कमाने वाली कम्पनियो की लिस्ट को ध्यान से देखा जाये तो इनमे से अधिकतर फैशन के क्षेत्र में काम कर रही कम्पनिया ही हैं। फैशन के क्षेत्र में मार्जिन काफी ज्यादा होता हैं और कॉम्पटीशन भी अन्य कई क्षेत्रो के मुकाबले कम हैं तो ऐसे में अगर ऑनलाइन फैशन स्टार्टअप शुरू किया जाए तो उससे अच्छा पैसा कमाया जा सकता हैं।

ऑनलाइन फैशन स्टार्टअप से तात्पर्य ना केवल कपड़ो के व्यवसाय से हैं बल्कि सजने सवरने में उपयोग किए जाने वाले विभिन्न लाइफस्टाइल के क्षेत्र में आने वाले प्रोडक्ट्स जैसे की कॉस्मेटिक्स, परफ्यूम्स, शूज आदि भी इसमें शामिल हैं। अगर आप फैशन इंडस्ट्री के बारे में जानकारी रखते हैं तो आपको पता होगा की इसमें मार्जिन काफी अच्छा हैं, ऐसे में अगर अच्छी सेल्स मिल जाये तो फिर मुनाफा ही मुनाफा हैं।

वर्तमान समय में फैशन स्टार्टअप करना पहले के मुकाबले काफी आसान हो चूका हैं। जरूरी नहीं की आप प्रोडक्ट्स की मेन्युफेक्चरिंग करो, बल्कि आप प्रोडक्ट्स को आउटसोर्स करके लीगली उन्हें खुद की ब्रांडिंग के साथ बेच सकते हो। यहाँ बस आपको प्रोडक्ट्स को बेचने के लिए अच्छी मार्केटिंग और बेहतरीन इकोसिस्टम की जरूरत पड़ेगी जिसके लिए आपको एक बेहतर स्ट्रेटेजी तैयार करनी होगी।

जानकारी के लिए बता दे की भारत में फैशन इंडस्ट्री 223 बिलियन डॉलर्स की हैं और यह 4.5 करोड़ लोगो को प्रत्यक्ष तौर पर और करीब 6 करोड़ो लोगो को अप्रत्यक्ष तौर पर रोजगार देती हैं। अगर बात की जाये फैशन इंडस्ट्री में होने वाली ग्रोथ की तो यह 8 प्रतिशत प्रतिवर्ष से भी अधिक हैं। ऐसे में इस क्षेत्र में स्टार्टअप करना वाकई में काफी फायदेमंद साबित हो सकता हैं।

3. 3D प्रिंटिंग बिज़नेस (3D Printing Business)

lQCvGvzRL6fI1pqk0 jFtd0qPjUTYuCVMPSdopj6J1eD2RAdK1aRsNeDVmMO bWIhg FrWY8bi5H6DQqk1oHjSG84GynpLt9BcMFFeqxoKdckACDofwPW4Vl1nEDc F8DAYb8YZA

इस बात में कोई दो राय नहीं हैं की टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए स्टार्टअप वाकई में काफी अच्छा पैसा देते हैं तो ऐसे में जो टेक्नोलॉजी नई हैं उन्हें आधार बनाकर के कम्पनिया स्टार्टअप्स कर रही है और अपने स्टार्टअप्स से अच्छा पैसा बना रही हैं। 3D Printing Technology भी वर्तमान समय मे एक लोकप्रिय टेक्नोलॉजी हैं। भारत में भी धीरे धीरे यह नई टेक्नोलॉजी आ रही हैं और उद्यमी इससे जुड़े व्यवसायों के द्वारा पैसा कमा रहे हैं।

अगर 3डी प्रिंटिंग मार्केट साइज के बारे में बात की जाये तो ग्लोबली यह मार्केट वर्तमान समय में करीब 15.26 बिलियन डॉलर्स से अधिक का हैं जो साल 2028 तक 68.71 बिलियन डॉलर्स तक जा सकता हैं। भारत में वर्तमान समय में मार्केट करीब 3 हजार करोड़ रूपये का हैं लेकिन अगले कुछ सालो में एक बिलियन डॉलर्स तक जाने का पोटेंशियल रखता हैं तो ऐसे में इस क्षेत्र में शुरू किया स्टार्टअप भी वाकई में फायदेमंद साबित हो सकता हैं।

अगर 3डी प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी पर आधारित बिजनेस के बारे में बात की जाये जो भारत मे प्रॉफिट बना सकते हैं तो उनमें बी2सी और बी2बी दोनों तरह के बिजनेस ही आते हैं। अगर बी2सी की बात की जाये तो कस्टमाइजेशन आधारित डिमांड्स को पूरा करने के लिए बिजनेस शुरू किया जा सकता हैं और बी2बी के बारे में बात की जाये तो ईकॉमर्स सप्लायर्स के तौर पर काम किया जा सकता हैं। इस तरह के कई व्यवसाय इस क्षेत्र में शुरू हो सकते हैं।

4. IOT बिज़नेस (Internet of Things (IoT) Business)

br1ydz9jqLxA0f9pqp8umKowuYF4kk2AU3M6xAWD7CdaC6Hgy11txK SkYa4BAUZzJKbAuh5ONCzzoRlqUKJMHQNXlWh2Y8mUlNrpAiZYU RHin2tgcKqdNugt0Ysbf52qTSP0Sa

कनेक्टिविटी के इस जमाने में हर व्यक्ति अपडेटेड रहना चाहता हैं। थोड़ी देर से ही सही लेकिन जिओ के आने के बाद भारत में भी डिजिटलाइजेशन शुरू हो चुकी हैं जिसकी वजह से इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स अर्थात आईओटी से जुड़े व्यवसाय भी काफी तेजी से ग्रोथ कर रहे हैं। लोगो को सेंसर, सोफ्टवेयर और अन्य टेक्नोलॉजीस का उपयोग करते हुए सेवाए करने वाले स्टार्टअप्स वर्तमान समय में अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं।

अगर आंकड़ों की बात की जाए तो वर्तमान में देश मे इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स अर्थात आईओटी मार्केट करीब 15 बिलियन डॉलर्स का बताया जाता हैं। अगर देखा जाए IOT Industry के ग्रोथ रेट को तो कुछ आकड़ो के अनुसार यह मार्केट करीब 13.2 प्रतिशत की एनुअल ग्रोथ के साथ साल 2025 तक आगे बढ़ने वाला हैं तो ऐसे में जो उद्यमी इस क्षेत्र में नॉलेज रखते हैं वह इस क्षेत्र में मौजूद डिमांड को पुरा करके मुनाफा कमाने के लिए एक व्यवसाय तैयार कर सकते है। 

भारत में IOT Market काफी तेजी से आगे बढ़ रहा हैं और क्युकी देश में तेजी से डिजिटलाइजेशन हो रही हैं और लाखो लोग रोजाना टेक्नोलॉजी से जुड़ रहे हैं तो ऐसे में देश में आने वाले समय में IOT वाकई में एक बड़ा मार्केट बनकर उभरकर आयेगा। ऐसे में जो लोग इस बढ़ते हुए मार्केट का फायदा उठाना चाहते हैं उनके लिए आगे बढ़ने के कई अवसर मौजूद हैं जिनका फायदा उठाकर वह शानदार मुनाफा कमा सकते हैं।

5. फिटनेस बिज़नेस (Fitness Business)

VXh4prd s5StMthl2M j qjjR55ETMQsSmZ0fUPdbiCwbWulyjurBjvn 4o53NnboPbP8uY4oiT6jLzIAqttSMUnhR Em9qDcmLWmCQsoKOsyelEYwsez7n jhrGQgDQXgch2m7

चीन से शुरू हुए एक वायरस के पूरी दुनिया में कहर मचाने के बाद हर कोई अपने स्वास्थ्य को लेकर सतर्क हो गया हैं। जो लोग पहले स्वास्थ्य की तरफ अधिक भी अब स्वास्थ्य की तरफ विशेष ध्यान देने लगे हैं। हर व्यक्ति अब अपने आपको फिट बनाना चाहता है। ना कोई अधिक मोटा रहना चाहता है और ना ही कोई अधिक पतला रहना चाहता हैं, हर व्यक्ति फिट होना चाहता हैं और यही कारण हैं की फिटनेस स्टार्टअप्स भी एक बेहतरीन बिजनेस आईडीया हैं।

अगर आकड़ो की तरफ नजर डाली जाये तो भारत में 2020 में जिम, हेल्थ और क्लब्स का मार्केट करीब 600 मिलियन डॉलर्स का था जो काफी अच्छी ग्रोथ रेट के साथ आगे बढ़ रहा हैं। साल 2016 से 2020 के बिच में मार्केट में होने वाली ग्रोथ करीब 11 प्रतिशत सालाना थी लेकिन अब यह ग्रोथ पहले से भी अधिक तेजी से हो रही हैं तो ऐसे में इस क्षेत्र में किया जाने वाला स्टार्टअप काफी प्रॉफिटेबल साबित हो सकता हैं।

ना केवल शहरी क्षेत्रो में बल्कि ग्रामीण क्षेत्रो में भी भारत में फिटनेस सेक्टर काफी अच्छी ग्रोथ रेट के साथ आगे बढ़ रहा है तो ऐसे में छोटे-बड़े शहरों में हर जगह ऑडियंस के अनुसार इस क्षेत्र में स्टार्टअप शुरू करना बेहतरीन विकल्प साबित हो रहा हैं। ना केवल जीम और क्लब्स चलाना एक अच्छा विकल्प हैं बल्कि फिटनेस प्रोडक्ट्स और गाइडेंस के क्षेत्र में भी बिजनेस किया जा सकता है।

6. रोबोटिक बिज़नेस (Robotics and Automation Business)

aBILyESuHnjmF3c6usrXW5Ya0VHkmIRV3WfMxV ETfMIPqITYfyWHoG4CQ9ZT0A4MEIcZhi5mYj7krZJ Lk4S36rxHcumqzLIhkGndPV2XE4iLjKUnh0Dmh2sU bJvEqa4EVtiKs

प्रौद्योगिकी को एक वरदान इसलिए माना जाता हैं क्युकी इसकी वजह से वह काम संभव हो पा रहे हैं जिनकी कभी कल्पना तक नहीं की जा सकती हैं। मशीनीकरण और डिजिटलाइजेशन ने लोगो के जीवन को बेहद ही आसान बना दिया हैं और अब हम लगातार इस तरफ एक और कदम आगे बढ़ा रहे हैं। जी हाँ, रोबोटिक्स और ऑटोमेशन का तेजी से विस्तार हो रहा है और विभिन्न क्षेत्रो में इनका उपयोग करके चीजों को आसान बनाया जा रहा हैं।

रोबोटिक्स और ऑटोमेशन से जुड़े आकड़ो के बारे में बात की जाये तो मार्केट मुख्य रूप से बी2बी ही हैं जिसमे कम्पनिया अपने मार्जिन्स और प्रॉफिट को बढ़ाने के लिए रोबोटिक्स और ऑटोमेशन का इस्तेमाल करना चाहती हैं। ग्लोबल लेवल पर रोबोटिक्स मार्केट साइज साल 2021 में 43.8 बिलियन डॉलर्स का रहा हैं जो 10 प्रतिशत ग्रोथ के साथ 2028 तक आगे बढ़ेगा। भारत में भी यह ग्रोथ 12 प्रतिशत तक रहेगी तो ऐसे में इस क्षेत्र में स्टार्टअप्स करना फायदेमंद रहेगा।

ब्रांड्स और कम्पनिया चाहती हैं की वह मशीनों और ऑटोमेशन के द्वारा अपने प्रॉफ़िट्स को बढ़ा सके और मार्केट की डिमांड को पूरा कर सके। ऐसे में जो उद्यमी रोबोटिक्स और ऑटोमेशन की समझ रखते है वह व्यवसायों की डिमांड्स को समझकर उन्हें पूरा करने के लिए काम शुरू कर सकते हैं। इस क्षेत्र में बी2बी में काम करके अच्छा पैसा कमाया जा सकता हैं। ऐसे में यह क्षेत्र भी स्टार्टअप्स के लिए वाकई में बेहतर माना जाता हैं। 

7. इलेक्ट्रिकल कार बिज़नेस (Electrical Car Business)

c B5PjwfUL0uYauvDfYViKPasHXeOme4SO9kFfJSLIubHviwqcqacc7LbB5LX7ZO4TeCn0FipDyfEWeYhP8Y8C1NJ8ctISnaMa5XM1jZdTK53Dg6gdyp0uuD 0rlcQX0jFkNEfXk

इस बात में कोई दो राय नहीं हैं की इलेक्ट्रिक व्हीकल्स ही दुनिया का भविष्य हैं। जिस तरह से भारत में पिछले कुछ सालो में डिजिटलाइजेशन और मशीनीकरण हुआ हैं और लोगो ने टेक्नोलॉजी को अपनाया हैं उसे देखते हुए कहा जा सकता हैं भारत में भी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स का क्षेत्र काफी प्रॉफिटेबल साबित होगा। इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में टू-व्हीलर्स ने तो रफ्तार पकड़ ही ली हैं और जिस तरह से टाटा आदी कम्पनियो की बनाई हुई इलेक्ट्रिक कारे बिक रही हैं, उसे मापकर भविष्य का अंदाजा लगाया जा सकता हैं।

अगर थोड़ा आकड़ो पर नजर डाली जाये तो बड़ी बड़ी व्हीकल कम्पनिया इलेक्ट्रिक व्हीकल के क्षेत्र में काम कर रही हैं जो इन्वेंशंस और प्रोडक्शंस दोनों पर ध्यान दे रही हैं। साल 2030 तक भारत का इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट 150 बिलियन डॉलर्स का हो जायेगा। कहा जा रहा हैं की इस क्षेत्र में अगले कुछ सालो में 90 प्रतिशत से भी अधिक की सालाना ग्रोथ देखी जायेगी तो ऐसे में व्यवसाय शुरू करने के लिए यह क्षेत्र वाकई में काफी फायदेमंद हैं।

इस बात में कोई दो राय नहीं हैं की आने वाले समय में हर कोई इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को अपनाएगा। कई कम्पनिया दावा कर चुकी हैं की वह अगले कुछ सालो में अपने आपको पूरी तरह से इलेक्ट्रिक बना लेगी। इस क्षेत्र में सीधे प्रोडक्शन के घुसना हर किसी के लिए सम्भव नहीं लेकिन फ्रेंचाइजी आदि लेकर या फिर क्षेत्र को माध्यम बनाकर इससे जुड़े हुए अन्य बिजनेस जैसे की ट्रेवल आदि बिजनेस करके भी अच्छा पैसा कमाया जा सकता हैं।

8. कार चार्जिंग स्टेशन बिज़नेस (Car Charging Station Business)

YcjztU5b5nN1M8oqMUqtxJsHItocx8Le2qXnaVJ4QwcYQkh 2TFSfsF1mQ7uiF MQGimqydfob 78ivmqdnnekbYx8

यह बात तो हम सभी को लगभग पता ही हैं की आने वाला समय इलेक्ट्रिक वाहनों का हैं। भारत में वर्तमान समय भी इलेक्ट्रिक वाहन अब भी काफी तेजी से फ़ैल रहे हैं तो ऐसे में इससे जुड़े हुए व्यवसायों में निवेश करना अर्थात उन्हें शुरू करना वाकई में एक बेहतरीन विकल्प रहेगा। अगर बात की जाये इलेक्ट्रिक वाहनों से जुड़े हुए व्यव्यसायो की तो कार चार्जिंग स्टेशन भविष्य में एक बेहतरीन और प्रॉफिटेबल व्यवसाय होने वाला हैं। 

वर्तमान समय में भारत में करीब 1640 इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन है जिनमें से 940 इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन देश के 9 बड़े शहरों सूरत, पुणे, अहमदाबाद, बैंगलोर, हैदराबाद, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई शामिल हैं। और जैसा की हमने आपको बताया की भारत में 2030 तक इलेक्टिक व्हीकल का मार्केट 150 बिलियन डॉलर्स से भी अधिक का हो सकता हैं तो ऐसे में ईवी चार्जिंग स्टेशन बेहतरीन बिजनेस आईडिया रहेगा।

वर्तमान समय में अगर आप इलेक्ट्रिक व्हीकल की दुनिया से आने वाली खबरों पर नजर डालो तो काफी सारी बड़ी बड़ी ईंधन और ऑटोमोटिव कम्पनिया EV Charging Station के क्षेत्र में काम कर रही हैं। ऐसे में अगर आपके पास एक अच्छा खासा अमाउंट हैं तो आप कार चार्जिंग स्टेशन सेटअप करने में पैसा लगा सकते हो। हाईवे आदि पर यह व्यवसाय काफी मात्रा में सफल होने वाला हैं क्युकी वहा लोगो को चार्जिंग स्टेशन की आ अधिक जरूरत पड़ती हैं।

9. साइबर सिक्योरिटी बिज़नेस (Cyber Security Business)

L qnNi5uFUkYhyce ZYe WOfFVinRNTvAen wtuRDGn i7P5AIjJzeVsR1f3yp8H6PUbow7ZnenW6uYPjAvgD1DhjyjUz46 OTZZ2XQ0re06T4tNtMHFG6ZMX5rSKpZJH MJC8N

जैसा की हम सभी जानते हैं की पिछले कुछ सालो में दुनिया में टेक्नोलोजी और इंटरनेट काफी तेजी से फैले हैं। इसके कई फायदे तो हैं लेकिन कुछ नुकसान भी हैं जिनमे से एक बड़ा नुकसान साइबर क्राइम हैं। साइबर क्राइम वर्तमान समय में एक बड़ा मुद्दा बन गया हैं जिसकी वजह से कम्पनिया और ऑर्गनाइजेशन्स के साथ इंडिविजुअल्स भी अपने करोड़ो रूपये गवाते है। यही पैदा होती हैं एक नए प्रॉफिटेबल बिजनेस की डिमांड जिसे कहा जाता हैं साइबर सिक्योरिटी।

साइबर क्राइम वर्तमान समय में एक बड़ा मुद्दा बन गया हैं जिसकी वजह से ऑर्गनाइजेशंस का काफी नुकसान होता हैं। कुछ आकड़ो पर नजर डाली जाये तो साइबर क्राइम्स की वजह से 2.9 मिलियन डॉलर्स का नुकसान हर मिनट होता है। यही कारण हैं की कुछ आकड़ो के अनुसार इस साल व्यवसाय साइबर सिक्योरिटी पर करीब 170.4 बिलियन डॉलर्स खर्च करेंगे। ऐसे में साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में काम करने वाले बिजनेस वाकई में काफी प्रॉफिटेबल हैं।

साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में कई छोटी बड़ी ऑर्गनाइजेशंस काम कर रही हैं जो प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से कंपनियों और ऑर्गेनाइजेशंस को साइबर क्राइम के खिलाफ सिक्योरिटी प्रदान करने में और उनके नुकसान को कम करने में मदद कर रही है। साइबर सिक्योरिटी प्रोवाइड करने के लिए ऑर्गेनाइजेशन साइबर सिक्योरिटी कंपनियों को अच्छा भुगतान भी करती है तो ऐसे में आप भी क्षेत्र में कार्य करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हो।

10. VR टेक्नोलॉजी बिज़नेस (VR Technology Business)

YBcDNn2l5UIeF WrHDs3syRzy8obrOO6RR9FNAI Mb8BENEpai0cUNNfEWQMvWifDEfVpFBlkbpp8cj 9kdWOrIbwrLN9hUHgPdm1FoCeUFMzUXoKNsWc4fLUPWmWEtioYUmuDz

जैसा की हमने आपको बताया की वर्तमान समय में टेक्नोलॉजी पर आधारित व्यवसाय अधिक मुनाफा देते हैं और तेजी से स्केल भी होते हैं। क्योंकि टेक्नोलॉजी से आधारित व्यवसाय में काफी अच्छा मार्जिन मिलता है और निवेश मुख्य रूप से कम करना होता है तो ऐसे में यह काफी फायदेमंद साबित होते हैं। टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए जिन व्यवसाय में वर्तमान समय में रुचि ली जा रही है उनमें से एक व्यवसाय VR Technology भी हैं।

अगर आप नहीं जानते कि VR Technology Business क्या हैं तो जानकारी के लिए बता दे की यहाँ VR का तात्पर्य Virtual Reality (वर्चुअल रियलिटी) से हैं। वर्चुअल रियलिटी को फ्यूचर माना जा रहा है। वर्तमान समय में भी वर्चुअल रियलिटी को कई क्षेत्रो जैसे की रिटेल, एजुकेशन, टूरिज्म, इंजीनियरिंग, मेन्युफेक्चरिंग, ट्रेनिंग, हैल्थकेयर, कंस्ट्रक्शन, आर्किटेक्चर और इंटीरियर डिजाइन, रियल एस्टेट, मार्केटिंग और एडवर्टाइजमेंट आदि में किया जाता हैं।

अगर थोड़ी नजर आंकड़ों पर डाली जाए तो वर्चुअल रियलिटी का मार्केट वर्तमान समय में 10.32 बिलियन डॉलर्स का हैं और इस मार्केट में 2027 तक 21.6 प्रतिशत की सालाना ग्रोथ होने वाली हैं तो ऐसे में अगर आप वर्चुअल रियलिटी में नॉलेज रखते हैं तो यह क्षेत्र बिजनेस शुरू करने के लिए वाकई में फायदेमंद साबित होगा। इस क्षेत्र में सेवाओं और उत्पाद दोनों से जुड़े हुए बिजनेस करके प्रॉफिट कमाया जा सकता हैं।

11. ऑनलाइन गेमिंग बिज़नेस (Online Gaming Business)

uGa7S30NKP3XlSb CJG76YsehgePBSrE8NqIkWLu1aHpPPa5A3QiSFvsiFbR665Z0 kHd69enImmSGWYOSg0OEU1HBc8ZNB

यह बात हम सभी भली-भांति जानते हैं कि पिछले कुछ सालों में ना केवल हमारे देश में बल्कि पूरी दुनिया में गेम खेलने वालों की संख्या काफी ज्यादा तेजी से बढ़ी है जिनमें से ऑनलाइन गेम खेलने वाले सबसे अधिक है। PUBG और Freefire जैसे ऑनलाइन मल्टीप्लेयर गेम्स में लोगों को अपनी तरफ काफी तेजी से आकर्षित किया है और वर्तमान समय में करोड़ों लोग ऑनलाइन गेमिंग करते हैं तो ऐसे में इस क्षेत्र में व्यवसाय करना भी प्रॉफिटेबल साबित हो सकता है। 

थोड़ी नजर आंकड़ों पर डाली जाए तो दुनिया में गेम खेलने वाले लोगों की संख्या अरबों में है और साल 2021 में गेमिंग इंडस्ट्री करीब 175.8 डॉलर की थी जो करीब 7.77 प्रतिशत की सालाना ग्रोथ के साथ साल 2025 तक तेजी से आगे बढ़ेगी। ऐसे में अगर आप चाहे तो ऑनलाइन गेमिंग के क्षेत्र में अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। इस क्षेत्र में आप डेवलपमेंट से लेकर विभिन्न प्रकार के व्यवसायो में स्टार्टअप शुरू कर सकते हैं।

ऑनलाइन गेमिंग का क्रेज भारत में भी काफी तेजी से बढ़ता जा रहा हैं। अगर भारत की बात की जाये तो भारत में पब्जी जैसे गेम्स से लेकर लूडो जैसे गेम्स तक को भी प्यार मिलता हैं और गेम काफी तेजी से वायरल होते हैं। ऐसे में अगर आप भारत में इस क्षेत्र में व्यवसाय करते हो तो काफी अधिक गेमर्स के होने की वजह से और भविष्य में गेमर्स की संख्या और भी तेजी से बढ़ने की वजह से ऑनलाइन गेमिंग के क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करना प्रॉफिटेबल साबित होगा।

12.  ईकॉमर्स स्टोर बिज़नेस (E-commerce Store Business)

l9hX5adE2d9MpBg daDNRPJyNxJXUmOP3J8M81K IDcUnvRxw2PJ60zxkVLhP9PEL5DhRyDnE3aZWT2V64dNdjg0ljGKj4HGrgrIFx0v6RrI PrdMOiiigfIvvmZlMsCRDvzXR0M

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि पिछले कुछ सालों में एक ई कॉमर्स वेबसाइट को बनाना और ऑनलाइन बिजनेस सेटअप करना पहले के मुकाबले काफी आसान हो चुका है क्योंकि आप घर बैठे हुए अपने ई-कॉमर्स वेबसाइट बना सकते हो और लॉजिस्टिक्स और पेमेंट का काम भी विभिन्न प्रकार की मिडल कम्पनिया संभाल लेती हैं। ऐसे में अच्छा प्रोडक्ट होने पर ईकॉमर्स स्टोर शुरू करना भी आपके लिए एक प्रॉफिटेबल बिज़नेस साबित हो सकता हैं।

सबसे पहले अगर आप ई-कॉमर्स स्टोर के बारे में नहीं जानते तो जानकारी के लिए बता दें कि वह वेबसाइट जिसके द्वारा आप ऑनलाइन प्रोडक्ट परचेज़ करते हो, उसे ई-कॉमर्स स्टोर कहा जाता हैं। ई-कॉमर्स स्टोर के द्वारा आप आसानी से अपने प्रोडक्ट्स को देश भर में बेचकर हजारो लाखो की संख्या में ग्राहक बनाते हुए बड़ा प्रॉफिट कमा सकते हो। बस आपके पास ऐसा प्रोडक्ट होना चाहिए जो लोगों को पसंद आया और अच्छा मार्जिन भी दे।

अब अगर ई कॉमर्स से जुड़े हुए आकड़ो को देखा जाये तो भारत में ईकॉमर्स मार्केट साल 2020 में करीब 46.2 बिलियन डॉलर्स का था जो साल 2024 तक 111 बिलियन डॉलर्स तक का हुआ। साल 2026 में 200 बिलियन डॉलर्स तक के टारगेट को छू सकता हैं। ऐसे में अगर आप ई कॉमर्स स्टोर शुरू करने की सोच रहे हो तो आपके पास प्रोडक्ट्स हैं जो आपको अच्छा मार्जिन भी दे रहे हैं तो यह एक फायदेमंद फैसला साबित होगा।

13. हेल्थ सर्विस बिज़नेस (Health Services Business)

BqxhVuycwmjXa5Fu7 O49doky75mcXhTfRBJHszCZz3lq4k871Kx9rFrDo65mkhUONelDI4xpPqsKaGZaTeWV3LtT9

जैसा की हम सभी लोग जानते हैं की वर्तमान समय में बीमारियों का खतरा काफी ज्यादा बढ़ गया हैं। कोरोना महामारी के आने के बाद से लोग बीमारियों और अपने स्वास्थ्य को लेकर अधिक सचेत हो चुके हैं और यही कारण है कि वर्तमान समय में हर कोई स्वस्थ रहना चाहता है। लोगों के स्वस्थ रहने की सोच की वजह से स्वास्थ्य क्षेत्र का काफी विस्तार हो रहा है जिससे स्वास्थ्य सुविधाएं देने वाली कंपनियों को काफी मुनाफा हो रहा है।

स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में विभिन्न तरह की कंपनियां कार्य करती है जिनमें कंसल्टेंसी कंपनियों से लेकर इंश्योरेंस जैसी कंपनियां तक शामिल है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में दी जाने वाली सेवाओं में चिकित्सा और मेडिकल सुविधाओं आदि को भी गिना जाता है। ऐसे में अगर आप वर्तमान समय में कोई व्यवस्था शुरू करने की सोच रहे हो और आपको एक ऐसा व्यवस्था शुरू करना है जो सदाबहार हो तो ऐसे में यह क्षेत्र भी काफी बेहतर रहेगा।

आंकड़ों की मानें तो साल 2022 में भारत में स्वास्थ्य सुविधाओं का मार्केट करीब 370 बिलियन डॉलर का है जो देश में मौजूद सबसे बड़े मार्केट में से एक है। कोविड-19 के आने की वजह से स्वास्थ्य सुविधाओं की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ चुकी है तो ऐसे में मार्केट की ग्रोथ रेट भी बढ़ चुकी है। पिछले कुछ सालों में 16% सालाना की ग्रोथ रेट के साथ मार्केट आगे बढ़ा है तो ऐसे में क्षेत्र में बिजनेस शुरू करना वाकई में काफी प्रॉफिटेबल साबित हो सकता है।

14. रियल एस्टेट कंस्ट्रक्शन बिज़नेस (Real Estate Construction Business)

3PLxfgSLghsEQ8poCGu0h1 yx4 piSw7fRFrqCqfKVMdUrv9PfTAuTeaYt9hQUafWx9zgR0ChsPdObNlFQOKsl6ANzyk83889

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि वर्तमान समय में रियल एस्टेट का क्षेत्र देश में काफी तेजी से डेवलप हो रहा है और जो कंपनी के क्षेत्र में काम कर रही है वह काफी अच्छा मुनाफा भी कमा रही है। रियल एस्टेट में काम करने के लिए कई तरह के व्यवसाय होते हैं जिनमें से एक महत्वपूर्ण व्यवसाय रियल एस्टेट कंस्ट्रक्शन का भी होता है जिसमें प्रॉपर्टीज को पहले डेवलप किया जाता है और उसके बाद में उन्हें प्रॉफिट निकाल कर बेचा जाता है।

अगर कुछ आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो भारत में रियल एस्टेट सेक्टर साल 2021 में करीब 200 बिलियन डॉलर का था और 2030 तक यह एक ट्रिलियन डॉलर का मार्केट हो सकता है जिसमें कंस्ट्रक्शन का भी एक बड़ा भाग रहेगा। पिछले कुछ सालों में भारत में रियल स्टेट कंस्ट्रक्शन सेक्टर को 10% से भी अधिक की सालाना ग्रोथ मिल रही है तो ऐसे में इस क्षेत्र में व्यवसाय करना मुनाफे का सौदा होगा।

अगर रियल एस्टेट कंस्ट्रक्शन व्यवसाय के बारे में बात की जाए तो इस व्यवसाय में कैपिटल के अनुसार छोटे से बड़े स्तर पर काम किया जाता है। इस व्यवसाय में पहले ऑर्गनाइजेशन या फिर कहा जाए तो कंपनियां लैंड एक्वायर करती है और उसके बाद उस पर प्रॉपर्टी डेवलप करके उन्हें प्रॉफिट निकालकर बेचती हैं। इस तरह से कम्पनिया रियल एस्टेट कंस्ट्रक्शन में पैसे कमाती हैं। वर्तमान में निवेशक भी रेंट के तौर पर कैश-फ्लो प्राप्त करने के लिए इस क्षेत्र में कार्यरत हैं।

15. इंटीरियर डोकरशन बिज़नेस (Interior Decoration Business)

8lf76d3PK2JCcOmKPhh ndp4JK3h m7vrii7BKOuxs25PET5GE9fjuyuoDbFbJOT8pqNZVPBFYCKARSBmccQgZX10a5i 6FEIFGtKw

यह बात हम सभी भली-भांति जानते हैं कि वर्तमान समय में जब भी कोई व्यक्ति अपना घर ऑफिस या फिर कोई भी प्रॉपर्टी डेवलप करवाता है तो वह यह चाह रखता है कि उसका इंटीरियर ऐसा हो जो उसे और उस प्रॉपर्टी पर आने वाले लोगों को पसंद आए और यही कारण है कि वर्तमान समय में लोग इंटीरियर डेकोरेशन पर अच्छा खासा पैसा खर्च करते हैं। ऐसे में नया बिजनेस शुरू करने के लिए इंटीरियर डेकोरेशन का क्षेत्र भी काफी फायदेमंद है।

अगर आंकड़ों की तरफ नजर डाली जाए तो इंटीरियर डिजाइनिंग का मार्केट भारत में साल 2020 में करीब 23.2 बिलियन डॉलर का था जो साल 2027 तक 38.2 बिलीयन डॉलर्स का हो जाएगा। अगर ग्रोथ रेट की बात की जाए तो यह मार्केट सालाना 7.2% की ग्रोथ रेट के साथ आगे बढ़ने वाला हैं और यह ग्रोथ रेट अधिक भी रह सकती हैं। ऐसे में अगर आप इंटीरियर डेकोरेशन के क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करने की सोच रहे हो तो यह काफी फायदेमंद हैं।

आज के समय में लोग इंटीरियर डेकोरेशन के नाम पर काफी अच्छा खासा पैसा खर्च करने को तैयार होते हैं और ना केवल इंडिविजुअल्स बल्कि ऑर्गेनाइजेशंस और विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाली विभिन्न कंपनिया भी इंटीरियर डेकोरेशन पर ध्यान देती है तो ऐसे में आप इस क्षेत्र में विभिन्न प्रकार की सुविधा और उत्पादों को आधार बनाकर बिजनेस शुरू कर सकते हैं और उससे काफी अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। 

16. हैल्थी फ़ूड बिज़नेस (Healthy Food Business)

bjR6HHtnbKMIrs2onC c1JYhHkgzSZEkd8BF1 Pp bYf6dCyagLgdTj7UU1Cr6MqbaL6KAI4qmYSJb9V9dYWWAxIDKQu2M

जैसा कि हम सभी को पता हैं कि कोविड-19 के आने के बाद लोग अपने स्वास्थ्य को लेकर काफी ज्यादा सचेत हो चुके हैं। जो लोग पहले से स्वास्थ्य को लेकर सचेत थे वह भी और जो लोग को भी 19 के आने के बाद स्वास्थ्य को लेकर सचेत हुए हैं वह भी ऐसे फूड प्रोडक्ट की तरफ बढ़ रहे हैं जो उनके स्वास्थ्य को हानि नहीं पहुंचाए और उनके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए कार्य करें। यही पैदा होती हैं हेल्दी फ़ूड स्टार्टअप की डिमांड।

अगर कुछ आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो भारत में वर्तमान समय में हेल्दी फूड मार्केट काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है और मार्केट की आगे बढ़ने की रफ्तार 20 प्रतिशत सालाना से भी अधिक मानी जा रही हैं। इसके अलावा कहा जा रहा है कि भारत में हेल्दी फूड का मार्केट साल 2026 तक 30 बिलियन डॉलर का मार्केट बन जाएगा तो ऐसे में क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करना भी वाकई में लोगों के लिए प्रॉफिटेबल साबित हो सकता है। 

अब क्योंकि आप जान चुके हैं कि हेल्दी फूड स्टार्टअप मार्केट भारत में काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है तो आपको बस लोगों की डिमांड देखनी है कि वह कौनसे फ़ूड प्रोडक्ट सबसे अधिक प्रयोग करते हैं और यह पता करना हैं कि उन्हें किस तरह से हेल्थी बनाया जा सकता है। अगर आप लोगों को उनका पसंदीदा फूड एक हेल्थी अवतार में प्रोवाइड करवाने का काम करोगे तो आप लोगों की डिमांड पूरी करते हुए अच्छा पैसा कमा सकते हो।

17.  इन्शुरन्स गाइड बिज़नेस (Insurance Guide Service Business)

g5GbIo 8k1cTHGcc68HfSW3L6TVwlm2gtSOzYEyNy fx YlRBE dKCsTty8AhBMj1OSlkwEusHyvDghm5xnEDNzalPT3PiO1fkTjLxpTLq5RsShRQ2HV9Dxu1Xs Mbyundb0wzC1

इस बात में कोई दो राय नहीं कि वर्तमान में विकसित देशों के मुकाबले भारत में लोग इंश्योरेंस को कम प्राथमिकता देते हैं लेकिन उसके बावजूद भी आज के समय में भी भारत में इंश्योरेंस को प्राथमिकता देने वाले लोग काफी सारे हैं और उनका मार्केट भी काफी बड़ा है। इंश्योरेंस के क्षेत्र में वर्तमान समय में ऐसी काफी कम कंपनियां है जो लोगों को इंश्योरेंस गाइडेंस प्रोवाइड करती हो तो ऐसे में आप क्षेत्र में व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

आंकड़ों पर नजर डालें तो भारत में साल 2020 में इंश्योरेंस का मार्केट करीब 280 बिलीयन डॉलर्स का था जो वर्तमान समय में करीब 5.3 प्रतिशत की सालाना ग्रोथ रेट के साथ आगे बढ़ रहा है। केवल निजी बल्कि सरकारी कंपनियां भी इंश्योरेंस के क्षेत्र में काम कर रही है तो ऐसे में भारत में इंश्योरेंस सेक्टर काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है। लेकिन लोगों के पास आज भी इंश्योरेंस को लेकर गाइडेंस की सुविधा नहीं है।

 हर व्यक्ति चाहता है कि उसे एक ऐसा इंश्योरेंस मिले जो उसके लिए बिल्कुल सटीक हो यानी कि उस पर अधिक भारी भी ना पड़े और उसके परिवार को या फिर उसे उस इंश्योरेंस की जरूरत आने पर अधिक से अधिक लाभ भी मिले। लेकिन इंश्योरेंस को लेकर अधिकतर लोगों को गाइड देने वाला कोई नहीं मिलता तो ऐसा में आप इंश्योरेंस गाइडेंस सर्विस लोगों को प्रोवाइड करवा कर उससे अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

18. टैक्स सेविंग गाइड सर्विस (Tax Saving Guide Services Business)

2ehST1H8lvIBEtdL3S2QmYFS1f8KBWr7m9dosDyM1k6AL1Da7lmudOGbroQ M0QKcOs9I1NQ8iolhyNeGkv9vpUECI9XULj8fzY7NgbA dK ahuAaS 6sJ8CsJazs PmJTYynAB8

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि हर व्यक्ति चाहता है कि वह लीगल तरीके से अपना टैक्स बता सके यानी कि वह अपने पैसों को इस तरह से निवेश कर सके जिससे की वह लीगली अपना टैक्स बचा पाए। लेकिन अगर आप आज के समय में सर्च करने जाओ तो ऐसी काफी कम कंपनियां और कंसलटेंसी फर्म आपको मिलेगी जो इस क्षेत्र में काम कर रही है और यही कारण है कि आप यहां पर अच्छा मुनाफा कमा सकते हो।

अगर आपको लगता है कि आपको टैक्स की अच्छी नॉलेज है और आप लोगों का टैक्स बचा सकते हो या फिर आप एक ऐसे लोगों की टीम तैयार कर सकते हो जो लोगों की टैक्स बचाने में मदद करें तो आप एक कंसल्टेंसी फर्म या फिर एक कंपनी खोल सकते हो जो लोगों को लीगली टैक्स बचाने के लिए गाइडेंस दे। इस सुविधा के लिए लोग आपको अच्छा भुगतान करेंगे और आप अच्छा पैसा कमा पाओगे।

 अगर आंकड़ों पर नजर डाले तो भारत में वर्तमान समय में प्रत्यक्ष टैक्स अर्थात इनकम टैक्स आदि टैक्स भरने वाले लोगो की संख्या करोडो में हैं। इस तरह की कई स्कीम्स और निवेश विकल्प होते हैं जिनका उपयोग करके लोग आसानी से अपना पैसा टैक्स में जाने से बचा सकते हैं। लेकिन लोगो को इस बारे में गाइडेंस नहीं मिल पाती। ऐसे में आप इस डिमांड का फायदा उठाकर अपना बिजनेस बना सकते और प्रॉफिट कमाना शुरू कर सकते हो।

19. डिजिटल कोर्स बिज़नेस (Digital Courses Business)

इस बात में कोई दो राय नहीं कि वर्तमान समय में हर क्षेत्र में कंपटीशन बढ़ रहा है तो ऐसे में लोग सीखने पर ध्यान दे रहे हैं। क्योंकि शिक्षा डिजिटल हो रही है तो ऐसे में काफी सारी कंपनियां और फर्म भी अपने कोर्स अब डिजिटल डिजाइन कर रही है जिससे कि वह कम लागत में अच्छा मुनाफा कमा सके और छात्रों को भी थोड़ी फ्लैक्सेबिलिटी मिले। यही कारण है कि भारत में वर्तमान समय में डिजिटल कोर्सेज के व्यवसाय को काफी प्रॉफिटेबल माना जा रहा है।

अगर थोड़ा आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो 2018 में भारत में ऑनलाइन एजुकेशन का मार्केट करीब 39  बिलीयन डॉलर्स का था लेकिन 43.85 प्रतिशत की सालाना ग्रोथ के साथ यह मार्केट साल 2024 में करीब 360.30 बिलियन डॉलर्स का हो जायेगा। इसके आगे भी यह तेजी से आगे बढ़ता रहेगा। ऐसे में इस क्षेत्र में बिजनेस करना वाकई में फायदेमंद साबित होगा।

 अगर आपको लगता है कि आप किसी विषय की नोलेज रखते हैं और आप उसे डिजिटली लोगों को पढ़ा सकते हैं या फिर आपके पास कोई ऐसी स्किल है जिसे आप डिजिटली कोर्स बनाकर लोगों को सिखा सकते हैं तो आप डिजिटल कोर्स के क्षेत्र में अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। आपको बस एक या अधिक डिजिटल कोर्स तैयार करके उसे ऑनलाइन बेचना है और प्रत्येक कोर्स की सेल पर आपको पैसा मिलेगा।

20. डिजिटल अड्वॅरटीसमेंट बिज़नेस (Digital Advertisements Business)

LR6Dqi6hZimZ5l4656Drn

इंटरनेट दुनिया के सबसे तेजी से फैलने वाले आविष्कारों में से एक है और यही कारण है कि आज के समय में किसी जगह पर पानी और बिजली जैसी सामान्य सुविधा हो या ना हो लेकिन इंटरनेट हर जगह पर मौजूद होता है। क्योंकि इंटरनेट हर जगह मौजूद है और इससे अरबों की संख्या में लोग जुड़े हुए हैं तो इंटरनेट एडवर्टाइजमेंट अर्थात मार्केटिंग के लिए भी एक बड़ा प्लेटफार्म है।

 इंटरनेट पर काफी सारी वेबसाइट, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और एप्लीकेशन आदि मौजूद है जिन पर लोग घंटो अपना समय व्यतीत करते हैं तो ऐसे में कंपनियां डिजिटल एडवरटाइजमेंट्स का उपयोग करते हुए लोगों तक अपने ब्रांड और प्रोडक्ट की जानकारी पहुँचाती है और इसे ही डिजिटल एडवर्टाइजमेंट कहा जाता है। यह क्षेत्र काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है और इसमें बिजनेस शुरू करके अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।

अगर थोड़ा आंकड़ों पर नजर डाले तो डिजिटल एडवरटाइजमेंट्स पर साल 2019 में करीब 2 मिलियन डॉलर की ग्रोथ देखी गई थी और साल 2020 में डिजिटल एडवर्टाइजमेंट से जनरेट किया गया रेवेन्यू 199 बिलियन डॉलर्स से भी अधिक था। ऐसे में आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हो कि यह क्षेत्र काफी बड़ा है और तेजी से आगे बढ़ रहा है। ऐसे में अगर आप भी डिजिटल एडवाइजमेंट के क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करते हो तो काफी अच्छा मुनाफा कमा सकते हो।

21. एफिलिएट मार्केटिंग बिज़नेस (Affiliate Marketing Business)

SxNEzgkhZ yfgWfg4dN 1bb3yz4uS64gctSiF8tgyrTE1sceWy22Cl KVofe26jHDC0rW0LzmyNgbFDL5 W7CQ0v1D PzVdbK5

सबसे पहले अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में नहीं जानते तो जानकारी के लिए बता दे की  एफिलिएट मार्केटिंग मार्केटिंग का ही एक तरीका होता है जिसमें व्यक्ति को कम्पनियो और ब्रांड्स के  प्रोडक्ट बिकवाने पर कमीशन दी जाती है और यह कमीशन प्रत्येक सेल पर मिलता है। ऐमेज़ॉन से लेकर फ्लिपकार्ट आदि सभी एफिलिएट मार्केटिंग की सुविधा देते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग में आप सबसे पहले किसी कंपनी या फिर ई-कॉमर्स वेबसाइट के एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ते हैं और उसके बाद उस कंपनी या फिर ई-कॉमर्स वेबसाइट पर मौजूद प्रोडक्ट्स को अपनी रेफर लिंक किया फिर रेफर कोड का इस्तेमाल करते हुए बिक जाते हैं और जब वह सेल होता है तो उस सेल में से कुछ कमीशन जैसे कि 5% या फिर 15% कमीशन मिलता हैं। 

कुछ आंकड़ों के मुताबिक डिजिटल रूप से अपने प्रोडक्ट को उपलब्ध करवाने वाले और डिजिटल सुविधाएं प्रदान करने वाले 80 प्रतिशत तक ब्रांड्स एफिलिएट मार्केटिंग की सुविधा देते हैं जिसमे आप उनके प्रोडक्ट या सेवाओं को बिकवा कर पैसे कमा सकते हो। ऐसे में अगर आप लोगों को कन्वेंस करने में अच्छे हो तो यह काम आपके लिए प्रॉफिटेबल रहेगा। 

22. ब्लॉग्गिंग बिज़नेस (Blogging Business)

N2ArlA3V TvEvWtwBnRIAeuVDXt5HnyFQYd5L7DI3G78jTCZcHrq92CdYVbLhMrP7TCHofqL9ooHymw1yjQ4bbrl6UFsk9ewdYDdUjld1UaL3 VywWbGLURK0B2iLHnDeISMHm

सबसे पहले अगर आप ब्लॉगिंग के बारे में नहीं जानते तो जानकारी के लिए बता दे की ब्लॉगिंग में आप एक  ऐसी वेबसाइट बनाते हो जिसमें आप इनफॉर्मेटिव डीटेल्स आदि शेयर करते हो या फिर ऐसे रोचक लेख शेयर करते हो जो लोगों को पढ़ने में पसंद होते हैं। जब लोग आपके द्वारा शेयर किए जाने वाले कॉन्टेंट को पढ़ेंगे और आपके पास एक ऑडियंस आएगी जिससे आप पैसे कमा पाओगे।

जब आपके पास आपके ब्लॉग पर लोग आने लगते हैं और वह आपके द्वारा लिखे हुए कॉन्टेंट को पढ़ने लगते हैं तो आपके पास एक एक्टिव ऑडियंस रहने लग जाती है। अपने ब्लॉग पर क्वालिटी ऑडियंस होने के बाद आप अपने ब्लॉग पर एडसेंस के एड्स रन कर सकते हैं। जब आप की वेबसाइट पर चलने वाले एड्स को लोग देखेंगे और उन एड्स पर वह क्लिक करेंगे तो आपको मुनाफा होगा।

इसके अलावा एफिलिएट मार्केटिंग, स्पॉन्सर्ड पोस्ट जैसे तरीकों से भी आसानी से घर बैठे हुए ब्लॉगिंग के द्वारा अच्छा पैसा कमाया जा सकता है लेकिन इसके लिए आपको यह बात ध्यान में रखनी होगी कि आपके ब्लॉग पर अच्छा कॉन्टेंट होना चाहिए और आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक भी सर्च इंजन या फिर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से आना चाहिए और वह क्वालिटी ट्राफिक होना चाहिए।

23. रियल एस्टेट ब्रोकिंग बिज़नेस (Real Estate Broking Business)

o VNgnnA9hRy 3DFepKhbXNcWxEf0BZF6 atFBkUU6OgxsLRrEMqNrbPM5K3aCW67OPq9ttBFUsvV9DlvvUiuWlycYOQF85SJnrDENiHnzyJY1U0s6JreZiCoprQhlU1H3 dWuXI

रियल एस्टेट कंस्ट्रक्शन के बिजनेस के बारे में तो हम आपको बता ही चुके हैं कि इसमें आप प्रॉपर्टी डेवलप करके उन्हें लागत के मुकाबले अधिक कीमत में बेचकर पैसा कमाते हो लेकिन रियल एस्टेट से पैसे कमाने के और भी कई तरीके हैं जिनमें आपको कम कैपिटल निवेश करना होता है और ऐसा ही एक तरीका रियल एस्टेट ब्रोकिंग भी है।  डेवलपर खुद ब्रोकिंग का काम कम नही करते तो ऐसे में ब्रोकर इस जगह पर कमाता हैं। 

अगर आंकड़ों की माने तो वर्तमान में भारत में रियल एस्टेट मार्केट 200 बिलियन डॉलर से भी अधिक का है लेकिन भविष्य में यह एक ट्रिलियन डॉलर के भी ऊपर जाएगा तो ऐसे में रियल एस्टेट में व्यवसाय शुरू करने में वाकई में काफी मुनाफा होगा। रियल एस्टेट ब्रोकिंग में आपको बस कंस्ट्रक्टर से डील करनी होती है और उनके द्वारा बनाई गई प्रॉपर्टीज को बिकवाना होता है और प्रत्येक प्रॉपर्टी बिकवाने के लिए आपका कमीशन आपको मिलता है।

अगर आपको लगता है कि आपको प्रॉपर्टी के क्षेत्र की अच्छी समझ है और आप लोगों को प्रॉपर्टी खरीदने के लिए कन्वेंस करने की क्षमता रखते हो तो ऐसे में आप इस क्षेत्र में अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हो। रियल एस्टेट ब्रोकिंग में आपको बस ग्राहकों को ढूंढ कर उन्हें कन्सट्रक्टर और बिल्डर्स के द्वारा निर्मित की गई प्रॉपर्टी बिकवानी होती है और प्रत्येक प्रॉपर्टी को बिकवाने पर आपका कमीशन मिल जाता हैं।

24. फ़ास्ट फ़ूड बिज़नेस (Fast Food Business)

6YBtao0KmVNoj0oEEQGwjMIi8trfvm7s7HwBQj9ooakQZiCEKG6f9QBGpy5I2PuS7e hF9H v93PGOL gXyzq4R92QsJXSdGx5 VVNgdIcnt2BRB xzlQ GaCROu K0iYYs kr

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि भारत में फास्ट फूड काफी ज्यादा पसंद किया जाता है।  भारत में लोगों को खाने पीने का काफी शौक होता है और भारत में लोग ना केवल भारतीय खाना बल्कि कई तरह के और कई देशों के पकवानों को खाना पसंद करते हैं जिनमें मुख्य रुप से फास्ट फूड शामिल होते हैं। भारत में फास्ट फूड काफी मात्रा में खाया जाता है और भारत का फास्ट फूड मार्केट भी काफी बड़ा है तो ऐसे में आप इस क्षेत्र में बिजनेस शुरू कर के भी अच्छा मुनाफा कमा सकते हो।

अगर भारत के फास्ट फूड मार्केट के बारे में बात की जाए तो आंकड़ों के अनुसार साल 2020 में भारत का फास्ट फूड मार्केट करीब-करीब 117 बिलियन डॉलर्स का था जो करीब 15.5 प्रतिशत की ग्रोथ रेट के साथ वर्तमान समय में आगे बढ़ रहा हैं। कुछ आंकड़े यह भी कहते हैं कि भारत में साल 2025 तक फास्ट फूड मार्केट की ग्रोथ 15 प्रतिशत से भी अधिक रहने वाली हैं और यह मार्केट 2025 तक 219 बिलियन डॉलर्स का हो जायेगा। ऐसे में यह मार्केट कि आपके नए बिजनेस के लिए प्रॉफिटेबल साबित हो सकता है।

अगर आप फास्ट फूड की अच्छी नॉलेज रखते हैं तो आपको पता होगा कि फ़ास्ट फुड में काफी अच्छा मार्जिन निकाला जा सकता है और अगर आप सही स्ट्रैटेजी के साथ फास्ट फूड बिजनेस शुरू करते हैं तो आप इससे शुरुआत से ही काफी अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। फास्ट फूड बिजनेस को आप धीरे-धीरे ग्रोथ के साथ एक फास्ट फूड ब्रांड बना सकते हैं और फिर जगह जगह फैला कर इसे एक बड़ी कंपनी में बदल सकते हैं।

25. कूरियर सर्विस बिज़नेस (Courier Services Business)

ztdRQap kegpsmgkAnUaMKEXtrZvPiovXJ4GbdzIQZaHw1au467OtaN LnVyhu7H 1wJVcrncZOcrCvvBsHvhVQmoFuEhAviqQgyWxWMTqgBwsn1dcI7ti7Mz zephvXg55 Ajg

यह बात हम सभी भली-भांति जानते हैं कि आज के समय में लोगों को अपना समय व्यर्थ करना बिल्कुल पसंद नहीं होता और यही कारण है कि हर व्यक्ति अब सामान ऑनलाइन ही मंगाना पसंद करता है जिसकी वजह से लॉजिस्टिक्स अर्थात कुरियर सर्विसेस की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ चुकी है। यही कारण है कि नया बिजनेस शुरू करने के लिए कूरियर सर्विसेज के बिजनेस को भी एक बेहतरीन विकल्प के रूप में देखा जाने लगा है।

अगर थोड़ा आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो साल 2021 में भारत का लॉजिस्टिक्स का मार्केट करीब 250 बिलियन डॉलर्स का रहा था जो 10 से 12% की एनुअल ग्रोथ रेट के साथ आगे बढ़ रहा है।  संभावना है कि मार्केट साल 2032 तक 380 बिलीयन डॉलर तक का हो जाएगा तो ऐसे में अगर आप लॉजिस्टिक्स के क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करना चाहते हो तो यह वाकई में फायदेमंद रहेगा।

लॉजिस्टिक्स के क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको वर्तमान समय में ज्यादा कुछ करने की जरूरत भी नहीं है क्योंकि काफी सारी कंपनियां आपकी पात्रता के अनुसार आपको लॉजिस्टिक्स के लिए अपनी फ्रेंचाइजी दे देगी तो ऐसे में आप पर भी कंपनियों की फ्रेंचाइजी लेकर अपने शहर में लॉजिस्टिक्स का काम करके प्रत्येक प्रोडक्ट की डिलीवरी पर कमीशन बना सकते हैं और क्योंकि पैसा सीधा कंपनियों से आएगा तो ग्राहक से डील करने की जरूरत भी कम पड़ेगी।

अन्य पढ़े

15 स्टार्टअप बिज़नेस आइडियाज

20 लाभदायक बिज़नेस

नए बिज़नेस आईडिया

Leave a Reply